yoga poses for back pain| कमर दर्द के लिए 4 योगासन

yoga poses for back pain| कमर दर्द के लिए 4 योगासन 

दोस्तों कमर दर्द की समस्या बहुत ही दर्द भरा होता हैं इस परेशानी का सामना ऑफिस में काम करने वाले लोगों को होता हैं| हम इससे तुरंत छुटकारा पाने के लिए दावा का सहारा लेते हैं लेकिन इस समस्या का समाधान हमेशा के लिए नहीं हैं| इसका सबसे अच्छा इलाज योग हैं तो चलिए जानते हैं इससे संबंधित योग के बारे में|

आधोमुख आसन

इस आसन की सहता से पूरे शारीर की स्ट्रेचिंग हो जाती हैं| इसकी सहता से रीढ़ की हड्डी को आराम और back pain से राहत मिलता हैं इसके लिए अपने हांथों को आगे की तरफ लाएं| इसी अवस्था में रहें और 5 से 10 बार गहरी संसा लें इसको 4 से 5 बार करें|
yoga poses for back pain| कमर दर्द के लिए 5 योगासन
yoga poses for back pain| कमर दर्द के लिए 5 योगासन

पीठ और कमर दर्द का योग बालासन

आपको इसे शाम के समय काम करने के बाद कर सकतें हैं इससे थकन दूर होती हैं बस क्या करना हैं घुटने के बल बैठ जाएँ फिर सामने की तरफ हाँथ करें और स्ट्रेच करें| लेकिन पैरों के बल बिलकुल ना बैठें| 5 से 8 बार गहरी साँस लें तक तक करें जब तक आराम न महसूस हो|
yoga poses for back pain| कमर दर्द के लिए 5 योगासन
पीठ और कमर दर्द का योग बालासन

धनुरासन

इस आसन को हम धनुष मुद्रा ने नाम से भी जानते हैं इसको करने से तनाव, चिंता, कंधे, हाथ, गर्दन, पेट, कमर दर्द, जांघों, इन सभी तरीको से लाभ मिलता हैं| धनुरासन को इस प्रकार करें |

सबसे पहलें जमीन पर एक मेट बिछा लें और पेट के बल लेट जाएँ फिर धीरे-धीरे एडियों को हांथों से पकड़कर दोनों को ऊपर की तरफ लें जाएँ| फिर अपने जांघों को ऊपर की तरफ उठा लें फिर पैरों को पीठ की तरफ खीचें|

अपने क्षमता के अनुसार सर और जांघों को ऊपर उठाने का प्रयास करें| धीरे से साँस छोड़ते हुए वापस अपनी अवस्था में आ जाएँ|
yoga poses for back pain| कमर दर्द के लिए 5 योगासन
धनुरासन

मकरासन


इस आसन की सहायता से आप आसानी से कमर दर्द, पेट की चर्बी घटाने में बहुत असरदार हैं और शरीर का लचीलापन बढ़ता हैं हाँथ, पैरों और कमर का दर्द व मोटापा भी कम होता हैं|
yoga poses for back pain| कमर दर्द के लिए 5 योगासन
मकरासन के फायदें

आसन की विधि

पहले पीठ के बल लेटकर दोनों हांथों को कमर से निचे रखें| दोनों पैरों को जोड़कर घुटनों से मोड़ लें|अब कमर के नीचे के हिस्से को मोड़ते हुए पैरों को एक बार दाई तरफ बगल में जमीन पर टिका दें| इस अवस्था में सर को उसकी उलटी दिशा में रखें| इसको 10 से 25 सेकेण्ड से शुरू करें फिर धीरे-धीरे समय बढ़नी हैं|

इसे भी पढ़ें- बढ़ते वजन से हो रहे हैं परेशान तो अश्वगंधा से कैसे मिलेगा फायदा-my saundarya.com
इसे भी पढ़ें- मुंह की बीमारियों को ना लें हल्के में, हो सकती है ये जानलेवा बीमारी
इसे भी पढ़ें- दिमाग तेज़ करना हैं तो हलासन करने से मिलेगा फायदा-mysaundarya.com

दूसरा विधि

जमीन पर सीधा लेट जाएँ अब दोनों पैरों के बीच फासला रखें और उन्हें घुटनों से मोड़ लें|अब बायां घुटने को बगल में जमीन पर रख दें और दायाँ घुटना बाएं पैर के अंगूठे पर रख दें|इस अवस्था में सर को विपरीत दिशा में घुमाकर रखें|


Previous
Next Post »